NEW DELHI :  इस खबर को उस समय से जोड़ा जा रहा है जब अरविंद केजरीवाल आईआईटी खड़गपुर में थे।

खबर में बताया गया है कि अरविंद केजरीवाल नाम के छात्र पर उस समय रेप का आरोप लगा था। हालांकि ये खबर झूठी है। बावजूद इसके लगातार सोशल मीडिया और चैट ग्रुप्स में लोग इस खबर से जुड़ी न्यूजपेपर की कटिंग शेयर कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है न्यूजपेपर की ये कटिंग 8 जून 1987 (सोमवार) की है।

8 जून 1987 की न्यूजपेपर कटिंग की जा रही वायरल
सोशल मीडिया में शेयर की जा रही न्यूजपेपर की कटिंग टेलीग्राफ की है, जिसके हेडर था, एक आईआईटी स्टूडेंट को रेप के आरोप में पकड़ा गया। इसमें बताया गया कि 19 वर्षीय आईआईटी खड़गपुर के छात्र को पुलिस ने रेप के आरोप में पकड़ा। आरोपी लड़के का नाम अरविंद केजरीवाल खबर में बताया गया। इस मामले में पुलिस की ओर से छात्रों को बताया गया कि 19 वर्षीय छात्र अरविंद केजरीवाल अपने दोस्तों के साथ पार्टी के लिए गया था। उसके बाद उसके सभी दोस्त हॉस्टल लौट आए लेकिन वो वापस नहीं लौटा।
शुक्रवार को पार्टी के लिए निकला अरविंद केजरीवाल नाम का छात्र रविवार रात में हॉस्टल में लौटा। इस बीच गोपालनगर पुलिस थाने में एक लड़की ने रेप का मामला दर्ज कराया। उसने एक छात्र को आरोपी करार दिया। उस लड़की ने आरोपी लड़के का परिचय पत्र सबूत के तौर पर पुलिस को दिया। ये परिचय पत्र अरविंद केजरीवाल नाम के छात्र का था। इसी के आधार पर पुलिस आईआईटी कैंपस पहुंची और आरोपी छात्र को गिरफ्तार कर लिया।
मीडिया टीम ने कई लोगों से इस संबंध में बात करने की कोशिश की। इनमें टेलीग्राफ में कार्यरत लोग भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि ये झूठी खबर है। ये क्लिपिंग बनाई गई है और इसे सोशल मीडिया पर ज्यादा से ज्यादा सर्कुलेट किया जा रहा है। एक वरिष्ठ पत्रकार ने बताया कि इस तरह की खबरें सोशल मीडिया पर लगातार भेजी जा रही हैं। हालांकि एक पत्रकार के तौर पर हम इन्हें छोड़ नहीं सकते हैं बल्कि इस मामले की सच्चाई और उससे जुड़े तथ्य को सामने रखना जरूरी है।
loading…


http://nationfirst.online/wp-content/uploads/2016/12/kaju11473768745-cropped.jpghttp://nationfirst.online/wp-content/uploads/2016/12/kaju11473768745-cropped-150x150.jpgadminspecialदेशNEW DELHI :  इस खबर को उस समय से जोड़ा जा रहा है जब अरविंद केजरीवाल आईआईटी खड़गपुर में थे। खबर में बताया गया है कि अरविंद केजरीवाल नाम के छात्र पर उस समय रेप का आरोप लगा था। हालांकि ये खबर झूठी है। बावजूद इसके लगातार सोशल मीडिया और...nation first, truly Indian